राई के दाने के 20 अद्भुत फायदे – मसाला वाटिका | 20 amazing benefits of mustard seeds

राई के 20 फायदे
राई के 20 फायदे

राई की गिनती सरसों की जाति में ही होती है। इसका दाना छोटा और काला होता है। जबकि सरसों का दाना पीला होता है। राई के दाने से तेल भी कम निकलता है, इसलिए तिलहन विक्रेताओं के यहाँ यह नहीं मिलती | उसे पंसारी ही बेचते हैं, क्योंकि उनका प्रमुख उपयोग मसाले की तरह होता है। इसकी दाल पीस ली जाए, फिर पानी में डाला जाए, तो पानी खट्टा हो जाता है | कांजी-बड़े मूंग-उड़द दाल से बनते हैं, पर उन्हें राई के पानी में फुलाया और साथ-साथ खाया जाता है। देखा जाये तो राई के फायदे बहुत हैं। जो कि निम्नलिखित हैं –  

  1. राई का प्रमुख गुण पाचक है।
  2. खटाई पैदा करने का गुण होने से वह स्वादिष्ट भी है।
  3. पेट में नन्हें कीड़े पड़ जाने पर इसके पानी से कीड़े मर जाते हैं।
  4. हैजे में राई पीसकर पेट पर लेप करने से उदरशूल व मरोड़ में आराम मिलता है।
  5. सभी अचारों में राई डाली जाती है | उससे वे सड़ते भी नहीं और खटाई लिए हुए अपना स्वाद भी बनाए रहते हैं।
  6. इसी प्रकार दाल-शाक में अन्य मसालों के साथ इसका भी उपयोग होता है। 
  7. दर्द या सूजन मिटाने का उसमें गुण है।
  8. इसकी पुल्टिस बनाकर यदि दर्द वाली जगह में सेक किया जाए, तो तुरंत राहत मिलती है।
  9. बाह्योपचार में राई का लेप सूजन कम करने वाला माना जाता है। गरम पानी में राई डालकर सहने योग्य तापमान तक बना लिया जाए, इतने में राई फूल जाती है और पानी में उसका असर हो जाता है। इस पानी को किसी टब में कमर की ऊँचाई तक भरा जाए और उसमें टब बाथ की तरह बैठा जाए तो प्रदर, प्रमेह आदि यौन रोगों के सुधार में इसका बहुत अच्छा प्रतिफल निकलता है। 
  10. राई या सरसों के तेल, में बारीक नमक मिलाकर, उससे मंजन का काम लिया जाए, तो दांतों तथा मसूड़ों की मजबूती व सफाई होती रहती है। 
  11. विष विकार में चूर्ण एक से दो चम्मच की मात्रा में दिया जाता है, ताकि वमन के द्वारा विष बाहर निकल जाए |
  12. राई अग्निदीपक , पाचक , उत्तेजक एवं पसीना लाने वाली बड़ी गुणकारी औषधि है। 
  13. राई का औषध प्रयोजन हेतु कम मात्रा में उपयोग ही लाभकारी है।
  14. इसे पीसकर शहद में मिलाकर सूंघने से जुकाम मिटता है।
  15. मात्र राई पीस कर सूंघने या तेल सूंघने से मिर्गी-मूर्छा दूर होती है।
  16. कान के फोड़े फुंसी व बहरेपन में राई का तेल कान में डालते हैं।
  17. राई पीस कर अरण्डी के पत्तों में चुपड़ कर जोड़ों पर लगाने से संधियों की सूजन मिटती है। 
  18. शरीर के भीतर अगर कहीं खून का जमाव हो जाये तो वहां काली राई के तेल की मालिश करके सेंक दें। खून का जमाव खुल जाता है।
  19. काली राई को पीसकर मस्तक में लेप करने से आधासीसी या अधकपारी रोग में लाभ होता है।
  20. राई के फायदे से गंजेपन की समस्या में लाभ मिलता है। आधी कच्ची और आधी सेंकी हुई काली राई के दाने को पीसकर कड़वे तेल (सरसों) में मिला लें। इसे लगाने से सिर के गंजेपन में लाभ होता है।

विभिन्न भाषाओं में राई के नाम (Name of Raai in Different Languages)

राई का वानस्पतिक नाम Brassica Juncea (Linn.) Czein. & Coss. (ब्रैसिका जन्सिआ) Syn-Sinapsis juncea Linn. है और यह Brassicaceae (ब्रैसिकेसी) कुल का है। राई को देश-विदेश में इन नामों से भी जाना जाता हैः-

Hindi – राई, लाल राई, माकड़ा राई
English – ब्राउन मस्टर्ड (Brown mustard), कॉमन इण्डियन मस्टर्ड (Common Indian mustard), Indian mustard (इंडियन मस्टर्ड)
Sanskrit – आसुरी, तीक्ष्णगंधा, क्षुज्जनिका, राजिका, राजी, क्षुदभिजनक, कृष्णिका, कृष्णसर्षप
Urdu – राई (Rai)
Kashmir – असुर (Asur)
Konkani – ससम (Sasam)
Kannada – सासि (Sasi), सासिवे (Saasivey)
Gujarati – सरसवा (Sarsva), राइ (Rai)
Tamil – कडुगु (Kadugu), चेरुकटुकु (Cherukatuku)
Telugu – आबालु (Abalu), आवालु (Avalu)
Bengali – सरीसा (Sarisa), राइ (Rai), सरिषा (Sarisha)
Marathi – मोहरी (Mohari), रायन (Rayan), राई (Rai)
Malayalam – कडुगु (Kadugu), कडूका (Kaduka)
Arabic – खरदेल (Khardel), खर्दल हिन्दी (Khardal hindi)
Persian – सर्शपैं (Shearshaf)


काली राई के नाम (Brassica Nigra (Linn.) Koch.)

Hindi – बनारसी राई, राजिका भेद
English – ब्लैक मस्टर्ड (Black mustard)
Sanskrit – राजक्षवक, राजसर्षप, कृष्णसर्षप
Urdu – राई (Rai)
Kannada – विलेससिवे (Vilaesasive), बिली (Bili)
Gujarati – रेडो (Redo)
Tamil – कडुगू (Kadugu)
Telugu – अवालू (Avalu)
Bengali – कालसर्षे (Kaalsarshe), राईसारीशा (Raisarisha)
Nepali – काल तोरी (Kal tori)
Marathi – काणतिखी (Kantikhi)
Arabic – खरडाल (Khardl), खीरडाल (Khirdal)
Persian – सरशाफ (Sarshaf)

उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी। अगर अगर पसंद आयी हो तो शेयर जरूर करें।

2 thoughts on “राई के दाने के 20 अद्भुत फायदे – मसाला वाटिका | 20 amazing benefits of mustard seeds”

Leave a Comment

Share via