न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स जरूरी क्यों हैं ? / Why Nutritional Supplements are important?

आज के विश्व में न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स की भूमिका

न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स विभिन्न पोषक तत्वों से युक्त न्यूट्रास्युटिकल्स हैं। ये हमारे भोजन का एक विकल्प नहीं हैं बल्कि ये सप्लीमेंट्स हमारे शरीर के लिए उन आवश्यक पोषक तत्वों की कमी को दूर करते हैं जो हमारे दैनिक भोजन में कम मात्रा में या उपस्थित ही नहीं होते हैं और इस प्रकार हमें अपने आहार को संतुलित करने में मदद करते हैं। न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स रोगों से बचाते हैं, जल्दी ठीक होने के लिए उपचार में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, स्वास्थ्य के रखरखाव में सहायता करते हैं तथा विशेष रूप से यह रोगों से बार-बार ग्रसित होने से भी हमें बचाते हैं। तो आइये कुछ उदाहरण के माध्यम से देखते हैं कि न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स जरूरी क्यों हैं ?

उदाहरण

यदि कोई व्यक्ति कम उम्र से एंटीऑक्सीडेंट्स लेना शुरू करता है तो ये भविष्य में होने वाले हृदय रोगों से रक्षा करेंगे। यदि कोई व्यक्ति खराब खान पान की बुरी आदतों और जीवनशैली के कारण पहले से ही हृदयाघात से ग्रसित है तो एटीऑक्सीडेंट्स रक्त प्रवाह के अवरोधों को हटाने में मदद करेंगे। जब एक बार यह अवरोध एंटीऑक्सीडेंट थेरेपी या सर्जरी के द्वारा हटा दिया जाता है तो एंटीऑक्सिडेंट्स धमनियों को पुन: अवरुद्ध होने से बचाएंगे और इस तरह से यह हमेशा हदय को स्वस्थ रखने में मदद करेंगे।

आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी और आसानी से उपलब्ध, बने बनाए प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों के कारण हमारे आहार की गुणवत्ता घट रही है। शक्कर, नमक और हानिकारक फैट की अधिकता वाले इन खाद्य पदार्थों पर निर्भर होने के कारण हल WHO द्वारा सुझाए गए आवश्यक पोषक तत्वों की मात्रा व उनकी गुणवत्ता के साथ समझौता कर रहे हैं। इसलिए हम शारीरिक दर्द, असमय बुढापा, त्वचा रोग, कमज़ोर बाल, थकान, कमज़ोरी जैसी स्वास्थ्य समस्याओं और विभिन्न प्रकार के कैंसर से ग्रस्त हो सकते हैं। पोषक तत्वों का ठीक तरह से अवशोषण न होने के कारण भी इन की कमी होती है।

पहला उदाहरणः एक समान मात्रा व गुणवत्ता वाला भोजन लेने के बाद एक युवा और स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में पोषक तत्वों का अवशोषण स्वास्थ्य समस्याओं से ग्रसित वृद्ध व्यक्ति की तुलना में कहीं बेहतर होगा क्योंकि युवा व्यक्ति की पाचन क्षमता बेहतर होती है व उसके सभी अंग वृद्ध व्यक्ति की तुलना में अधिक कुशलता से कार्य करते हैं।

दूसरा उदाहरण: गेहूं जैसे अनाज में मिलने वाले प्रोटीन का अवशोषण सोयाबीन की तुलना में काफी कम होगा क्योंकि सोयाबीन से मिलने वाले प्रोटीन की मात्रा और गुणवत्ता दोनों बेहतर है। 

यह भी पढ़ें – न्यूट्रीचार्ज मेन क्या है? सम्पूर्ण शारीरिक स्वस्थ्य के लिए ये क्यों जरूरी हैं ?

न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स इन कमियों को दूर करने में व हमारे शारीरिक कार्यों में सुधार के लिए एक मुख्य भूमिका निभाते हैं। न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स विभिन्न प्रकार के होते हैं जैसे उच्च गुणवत्ता वाला प्रोटीन, मल्टीविटामिन, फैट घटाने वाले, मसल्स बढ़ाने वाले, विटामिन ‘डी और कैल्शियम से भरपूर सप्लीमेंट्स, इत्यादि।

लोगों को पहले अपने स्वास्थ्य की समस्याओं के कारणों व ज़रूरतों को जानना चाहिए और फिर उसके अनुसार अपने स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार करने के लिए उचित सप्लीमेंट का चयन करना चाहिए। उदाहरण के लिए, कमज़ोरी और शारीरिक दर्द से ग्रसित व्यक्ति को प्रोटीन की उच्च गुणवत्ता व ज्यादा मात्रा वाले सप्लीमेंट्स का चयन करना चाहिए।

कैल्शियम की कमी और जोड़ों के दर्द से ग्रसित व्यक्ति को जोड़ों के स्वास्थ्य में सुधार के लिए ज्यादा कैल्शियम और विटामिन ‘डी’ युक्त सप्लीमेंट का चयन करना चाहिए। जिस व्यक्ति का कॉलेस्ट्राल स्तर बढ़ा हो, उसे ओमेगा 3 पोषक तत्वों से युक्त सप्लीमेंट का सेवन करना चाहिए जो कॉलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए जाने जाते हैं। इन कमियों को दूर करने के अलावा न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स अच्छे स्वास्थ्य के रखरखाव में भी सहायता करते हैं। यह आवश्यक नहीं है कि इन सप्लीमेंट्स को आप तभी लें जब आप किसी रोग से ग्रसित हो बल्कि स्वास्थ्य को बनाए रखने और युवा व हमेशा फिट रहने के लिए भी इनका सेवन बहुत उपयोगी सिद्ध हो सकता है।

न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स वैज्ञानिक रूप से कई शोधों के बाद तैयार किए जाते हैं और स्वास्थ्य की विशिष्ट स्थिति के अनुसार आवश्यक मात्रा में पोषक तत्वों से युक्त होते हैं। यह सप्लीमेंट्स पाउडर, केप्सूल, टेबलेट्स, पेय, आदि विभिन्न रूपों में उपलब्ध होते हैं। हमें न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स लेने से डरना नहीं चाहिए। क्योंकि निर्धारित मात्रा में लेने पर इनका कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं होता है और इनमें ज्यादातर तत्व प्राकृतिक सोत से प्राप्त होते हैं जो केवल सकारात्मक स्वास्थ्य लाभ ही प्रदान करते हैं। इसलिए रोगों के उपचार में अधिक पैसा खर्च करने के बजाय, क्यों न हम इन न्यूट्रीशनल सप्लीमेंट्स को खरीदने में पैसा खर्च करें और रोगों से बचाव करें।

इस पर सोचें और समझदारी से कार्य करें!

Leave a Comment

Share via